लड़की ने 32 लाख में खरीदी चमचमाती Range Rover फिर हुआ कुछ ऐसा, कि कबाड़ी वाले ने भी लेने से किया इंकार


इस दुनिया में हर कोई अमीर बनने के सपने देखता है जिसे पूरा करने के लिए हर कोई खूब मेहनत करता है। अमीर बनने के लिए मेहनत के साथ-साथ किस्मत भी इंसान के साथ होनी चाहिए कुछ लोग कम समय में बड़ी उप्लभ्धियाँ हासिल कर लेते है और कुछ लोग ज़िन्दगी भर मेहनत करने के बावजूद भी इतना नहीं हासिल कर पाते। लेकिन कई बार हमने अपने आस-पास या खबरों में देखा व् सुना है की कड़ी मेहनत करने के बाद सब हासिल होने के बाद जब भगवान को कुछ मंजूर नहीं होता तो वह उसे छीन लेते है या इंसान किसी न किसी तरीके से उसे खो देता है। तब उस इंसान का दिल टूट जाता है।

अब आप सोच रहे होंगे हम आपको इतना ज्ञान क्यों दे रहे है दरअसल दोस्तों ये ज्ञान हमारी आज की इस कहानी पर आधारित है यहाँ एक लड़की ने जिसकी उम्र मात्र 23 साल की है उसने 32 लाख की रेंज रोवर खरीदी लेकिन उसके साथ धोखा किया गया. उसे खराब मोटर वाली कार थमा दी गई जिसे ठीक करवाने में उसे अच्छा खासा नुकसान झेलना पड़ा. जैसे ही उसे पता चला उसके पैरो तले जमीन खिसक गयी और वह दुखी हो गयी। आपको बता दे अपने इस घटिया एक्सपीरियंस को 23 साल की रेने लेलिओट ने खुद शेयर किया. उसने बताया कि कैसे एक रेंज रोवर खरीदना उसके लिए जी का जंजाल बन गया.

पहले सेविंग्स लगा कर उसने कार खरीदी उसके बाद उसके खराब होने के बाद मरम्मत के चक्कर में उसके पैसों से और इमोशनली भी नुकसान झेलना पड़ा. उसने बताया कि खराब रेंज रोवर को शोरूम ने लेने से इंकार कर दिया. साथ ही सारी गलती का ठीकरा भी उसी पर फोड़ दिया,  मामला यूके का है जहां पिछले साल दिसंबर में ही रेने ने ये कार खरीदी थी. इस कार से रेने और उसका पार्टनर लॉन्ग ड्राइव पर काफी दूर जाने वाले थे जहां की सारी बुकिंग्स उन्होंने कर ली थी. लेकिन कार खराब हो गई और उनकी ये ट्रिप अधूरी रह गई.

ट्रिप का सारा नुकसान रेने को झेलना पड़ा. शोरूम ने पहले तो अपनी गलती मानने दिया ऊपर से रेने की जगह उसके प्रेमी से बातचीत की. क्यूंकि उनके हिसाब से गाड़ियों की जानकारी 23 साल की लड़की को नहीं होती है.रेने ने बताया कि उन्हें नई कार की जगह खराब मोटर वाली कार दे दी गई. एक ही हफ्ते में कार पांच बार खराब हुई. इसकी वजह से उनका काफी समय वेस्ट हो गया. जब थककर उन्होंने कंपनी से रिफंड डिमांड किया तो इससे भी इंकार कर दिया गया. इस मामले में काफी बहस हुई जिसके बाद कंपनी ने रेने को मोटर बदलने के मंजूरी भर दी।