असम के CM हिमंता बिस्वा ने “Ratan Tata को लेकर कर दी इतनी बड़ी घोषणा।


देश के लिए प्रधानमंत्री बनाया जाता है वहीँ शहरों के विकास के लिए मुख्यमंत्री बनाया जाता है उनका काम अपने-अपने शहर का विकास करना है और इसमें उनका योगदान पूरा हो तो मजा ही कुछ और है वहीं असम के मुख्यमंत्री  हिमंता बिस्वा सरमा अपने राज्य को सवारने का पूरा जिम्मा ले लिया है और इतना ही नहीं उनके इस काम से असम की जनता भी हिमंता बिस्वा सरमा से बहुत खुश है। हिमंता बिस्वा सरमा जो निर्णय लेते है, उस पर असम की जनता भरपूर समर्थन देती है।अब उनका एक निर्णय सबके लिए बेहद एहम साबित हुआ है। आइये जानिए इसके बारे में।

 

दरअसल असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने शनिवार को कहा कि असम सरकार उद्योगपति रतन टाटा और ओलंपियन लवलीना बोरगोहेन के साथ विभिन्न क्षेत्रों की मशहूर हस्तियों को नागरिक पुरस्कार से सम्मानित करेगी। गुरुवार को राज्य के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार असम बैभव के लिए रत्न टाटा के नाम का ऐलान किया जा चुका है। CM हिमंता बिस्वा सरमा ने गुवाहाटी में एक संवाददाता  में असम सौरव पुरस्कार के लिए विजेताओं के नाम का एलान किया था।

जानकारी के मुताबिक आपको बता दे की  इन पुरस्कारों के बारे में जानकारी देते हुए असम के CM हिमंता बिस्वा सरमा ने कहा कि अहोम वंश  की स्थापना करने वाले स्वर्गदेव चाओलुंग सुकफा के शासन की स्मृति में 2 दिसंबर को मनाए जाने वाले असम दिवस पर इस पुरस्कार को प्रदान किया जाता है। जिन्होंने 600 वर्षों तक असम राज्य पर राज किया था। आपको बता दें कि ये पुरुस्कार इस बार 24 जनवरी 2022 को दिया जायेगा। रतन टाटा को पुरस्कार राज्य में की देखभाल की सुविधाओं को मुहैया करने के लिए दिया जाएगा।

बेहद ख़ुशी की बात है की रत्न टाटा को असम बैभव पुरुस्कार से सम्मानित किया जाएगा। जबकि बाकी पांच लोगों को असम सौरव पुरुस्कार से सम्मानित किया जाएगा। इनमें ओलंपियन पदक विजेता लवलीना बोरगोहेन, कलाकार नील पवन बरुआ और राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के राज्य प्रोफेसर कमलेन्दु, देब क्रोरी और डॉ. दीपक चंद जैन को भी क्रमशः शिक्षा और व्यवसाय प्रबंधन के क्षेत्र में उनके योगदान के लिए दिया गया है। जैसे ही रतन टाटा को इसकी जानकारी मिली उन्होंने अपनी ख़ुशी जाहिर की।