क्या रूस से जंग के बीच देश छोड़ने को मजबूर हुए राष्ट्रपति जेलेंस्की, क्या इस देश में ली है शरण ?


रूस-यूक्रेन के जंग ने एक नई दस्तक दे दी है ये युद्ध आगे बढ़ता हुआ बेहद डरावना होता जा रहा है। अब दोनों की जंग के बीच एक बड़ी खबर ये आ रही है की यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की देश छोड़कर भाग गए हैं। रूसी मीडिया ने दावा किया है जेलेंस्की यूक्रेन छोड़कर पोलैंड भाग गए हैं। हाल ही में ऐसी ख़बरें आ रही थीं कि जेलेंस्की युद्ध के बीच देश छोड़कर कहीं चले गए हैं। इन्हीं खबरों के बीच रूसी मीडिया ने अब उनके पोलैंड में होने की जानकारी दी है। आइये जानते है क्या है पूरी खबर जिसने सबको हैरान कर दिया है।

दरअसल इससे पहले एक और दावा मीडिया के जरिए सामने आ चुके है कि यूक्रेनी राष्ट्रपति वोलोडिमिर जेलेंस्की को पिछले एक हफ्ते में तीन बार मारने की कोशिश हो चुकी है। यह सनसनीखेज दावा ब्रिटेन के अखबार The Times ने किया है। इसमें एक बड़ी बात और कही गई है। लिखा है कि हत्या की ये कोशिश रूसी एजेंसी की मदद से ही विफल की गई है, क्योंकि रूसी एजेंसी के कुछ लोग यूक्रेन से युद्ध के खिलाफ हैं।उन्हें ये सब बेमतलब का युद्ध लग रहा है जिसमे वह हिस्सा भी नहीं ले रहे है।

दरअसल हाल ही में विश्व संघ ने यूक्रेन संकट पर वोटिंग कराई,रूस के खिलाफ प्रताव पर होनी वाली इस वोटिंग में भारत ने फिर हिस्सा नहीं लिया है। मानवाधिकारों के उल्लंघन की जांच को लेकर यह वोटिंग हुई है।यूक्रेन के Zaporizhzhya पावर प्लांट पर बमबारी के बीच अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडेन ने जेलेंस्की से फोन पर बात की है। बता दें कि जहां हमला हुआ है वहां से न्यूक्लियर्स रिएक्टर्स काफी पास हैं। इसके साथ दोनों के बीच सैन्य, आर्थिक और मानवीय सहायता पर भी बात हुई है।

घंटो की बातचीत के बाद बाइडेन ने रूस से बमबारी बंद करने की गुजारिश की है। ताकि फायर ब्रिगेड अंदर जाकर धुएं का पता लगाकर एक्शन ले सके। खबरों के मुताबिक अमेरिका ने रूस से कहा है कि अगर वो यूक्रेन से अपनी सेनाएं हटा ले तो उसपर लगा प्रतिबंध हटा लिया जायेगा। लेकिन रूस पर अमेरिका की इस अपील का कोई असर नहीं पड़ा है। एक्सपर्ट का मानना है कि पुतिन अपना लक्ष्य पूरा किए बिना पीछे नहीं हटेंगे।और वह अपना लक्ष्य पूरा कर के ही अपने देश वापिस लौटेंगे।