चूल्हे पर खाना बनाती नजर आई रामायण की माता सीता, देख फैंस ने पूछा- माते दोबारा वनवास पे आई हो क्या?


रामायण में सीता का किरदार निभाकर लोकप्रिय हुईं कलाकार दीपिका चिखलिया सोशल मीडिया में काफी सक्रिय हैं और अक्सर अपनी जिंदगी से जुड़ी बातें और तस्वीरें इंस्टाग्राम पर पोस्ट करती हैं। कभी परिवार के साथ तो कभी अपनी प्रोफेशनल लाइफ से। कभी परिवार के साथ तो कभी किसी वेकेशन की तस्वीरें। दीपिका रामायण की यादें भी साझा करती हैं। फैंस दीपिका में आज भी रामानंद सागर की रामायण वाली सीता के दर्शन करते हैं और उनकी तस्वीरों को पसंद करते हैं, जो खूब वायरल होती हैं। अब दीपिका ने एक ऐसा वीडियो पोस्ट किया है, जिसे देख फैंस आनंद से भावुक हो रहे हैं। इस वीडियो में दीपिका लकड़ी के चूल्हे पर खाना बनाती दिख रही हैं।

वायरल हुआ सीता का वीडियो

दीपिका चिखलिया ने सीता के रोल में अपनी मासूमियत और अदाकारी से हर किसी पर गहरी छाप छोड़ी। इसलिये सालों बाद भी वो हर किसी की फेवरेट बनी हुई हैं। वहीं एक बार फिर इंटरनेट पर उनका वीडियो वायरल हुआ है।वीडियो में दीपिका चूल्हे पर खाना बनाती दिखाई दे रही हैं।टीवी की सीता को चूल्हे पर खाना बनाता देख हर किसी को पुराने दिन याद आ गये हैं।

दीपिका का देसी अंदाज

सामने आए वीडियो में दीपिका चिखलिया का देसी अंदाज नजर आ रहा है। वो लकड़ी के लट्ठों पर खाना बनाती दिख रही हैं। हालांकि, वे कहां है, इस बात की जानकारी सामने नहीं आई है। दरअसल, इस वीडियो ने फैन्स को रामायण की याद दिला दी है। एक यूजर ने लिखा- सीता जी वनवास काल में भी ऐसे ही खाना बना रही थीं। एक अन्य ने लिखा- क्या सीता माता फिर से वनवास में हैं। एक ने कमेंट किया- रामायण का वो सीन याद आ गया, जिसमें आप लव कुश के साथ जंगल से लकड़ियां लाकर खाना बना रही होती हैं। बता दें कि रामायण का प्रसारण जनवरी 1987 से जुलाई 1988 तक हुआ था। उस वक्त ये शो सुपरहिट रहा था। सीरियल का प्रसारण रविवार को होता था और जब ये सीरियल प्रसारित होता था तो सड़कों पर सन्नाटा हो जाता था।

आसानी से नहीं मिला था सीता का रोल

दीपिका को सीता का रोल आसानी से नहीं मिला था। इसके लिए करीब 25 आर्टिस्टों ने एक साथ स्क्रीन टेस्ट दिया था। टेस्ट में संवाद अदायगी से लेकर चेहरे के हाव-भाव, चलने फिरने के तरीकों तक पर गौर किया गया था। इस रोल ने दीपिका की जिंदगी बदल कर रख दी। सीता के किरदार को निभाने के बाद वे भारत में घर-घर में पूजी जाने लगीं थी। उनकी पॉपुलैरिटी इतनी हो गई थी कि भारत के तत्कालीन प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने उन्हें अपने घर दावत पर बुलाया। सीता का रोल निभाने के बाद चाहकर भी दीपिका माता सीता की इमेज से बाहर नहीं निकल पाईं।