करोड़ की घूस खाने वाले सरकारी अधिकारी के घर में हुई छापेमारी तो मिली ऐसी चीज जिसे देख हर कोई हुआ हैरान


भारत में भ्रष्टाचार सबसे बड़ी समस्या है। अगर आप सोच रहे कि बाकी देशों का हाल अच्छा है, तो आप गलत हैं। अब रूस से एक बड़ा मामला सामने आया है, जिसको जानकर हर कोई हैरान है। वहां पर एक ऐसा रिश्वतखोर अधिकारी मिला, जिसने सबको पीछे छोड़ दिया। साथ ही उसका रहन-सहन ऐसा था, जैसे वो कोई बड़ा बिजनेसमैन हो।

हालांकि अब उस अधिकारी का सारा कच्चा-चिट्ठा खुल गया है। दरअसल रूस के दक्षिणी क्षेत्र स्टावरोपोल में एक ट्रैफिक पुलिस अधिकारी एलेक्सी सफोनोव के खिलाफ लंबे वक्त से शिकायत मिल रही थी। इसके बाद एक जांच टीम गठित हुई। जब उन्होंने पड़ताल की तो पुलिस अधिकारी और उसकी टीम के कई लोगों पर घूस लेने का शक हुआ। जिस पर अधिकारी के घर छापेमारी का प्लान बनाया गया, लेकिन जब वो उसके घर पहुंचे तो हैरान रह गए।

ट्रैफिक पुलिस अधिकारी का घर इतना आलिशान था कि शुरू में जांच टीम को लगा कि वो गलत पते पर आ गए हैं। हालांकि क्रॉस चेक करने पर पता सही मिला। उस घर के कमरों में ऐसी सजावट थी, जिसे देखकर लगता है कि जैसे वो कोई महल हो। इसके अलावा जांचकर्ता तब हैरान रह गए, जब उन्हें टॉयलेट सोने का बना मिला।

जांच टीम के मुताबिक उन्होंने एलेक्सी और 6 अन्य लोगों को गिरफ्तार किया है। ये सभी पैसे लेकर अपराध में शामिल गिरोह को परमिट जारी करते थे। जिस वजह से अपराधी आसानी से पुलिस चेक पोस्ट को पार कर ले जाते थे। उसी का नतीजा है कि भ्रष्ट अधिकारी इतने आलिशान मकान में रह रहा था। हालांकि अब उसकी पोल खुलने के बाद उसे सलाखों के पीछे जिंदगी गुजारनी पड़ेगी।

रूसी मीडिया के मुताबिक गिरफ्तार आरोपियों में वरिष्ठ ट्रैफिक अधिकारी, एक ट्रैफिक निरीक्षक और चार नागरिक शामिल हैं। जांचकर्ताओं ने इसके अलावा अन्य 80 जगहों पर भी छापे मारे। जिसमें महंगे गिफ्ट, घर, कारें आदि जब्त की गई हैं। वहीं एलेक्सी और उसकी टीम ने हाल ही में परमिट के बदले 19 मिलियन रूबल लिए थे। भारत के हिसाब से देखें तो ये कीमत 1,91,77,266 रुपये होगी।