भीड़ में घोड़ी पर बैठे रहे दूल्हे राजा तो बैंड वालों को थाने पकड़ कर ले गई पुलिस


हर इंसान की शादी एक ना एक दिन जरूर होती है। चाहे लड़का हो या लड़की, दोनों ही अपनी शादी को लेकर कई सपने मन में संजोए रखते हैं। शादी लड़का लड़की के लिए जीवन का सबसे खूबसूरत दिन होता है। इस दिन की तैयारी में लड़का लड़की पहले से ही जुट जाते हैं। अपने लिए नए-नए कपड़े खरीदते हैं। लड़कियां आभूषण, श्रृंगार की चीजें खरीदती हैं।

हर कोई इंसान अपनी शादी को यादगार बनाना चाहता है। शादियों में बारातियों के साथ-साथ बैंड बाजा भी होता है, परंतु अगर अचानक से ही शादी में कुछ ऐसा हो जाए और पुलिस बैंड बाजा वालों को पकड़ कर ले जाए तो पूरा माहौल ही शांत हो जायेगा। हम ऐसा इसलिए कह रहे हैं क्योंकि एक ऐसा ही मामला सामने आया है।

जी हां, पूरे ठाठ के साथ बारातियों संग अपनी दुल्हन को लेने के लिए दूल्हे राजा सज-धज के घोड़ी पर सवार होकर निकले। बैंड वाले भी गानों से दूल्हे के साथ बारातियों का भी जोश बढ़ा रहे थे। नाच गाने के साथ बारात आगे बढ़ रही थी। तभी अचानक बैंड वाले गायब हो गए और घोड़ी पर बैठे हुए दूल्हे राजा उदास होकर देखते ही रह गए थे, बाद में पता चला कि बैंड वालों को पुलिस गिरफ्तार करके थाने ले गई है।

हम आपको जिस मामले के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं, यह मामला थाना कोसीकलां क्षेत्र का है, जहां पर एक शख्स की शादी हो रही थी। जब दूल्हा घोड़ी पर सवार हुआ तो बैंड बाजे वाले भी गानों की धुन बजाने लगे। बैंड बाजे और गाने के साथ बारात आगे बढ़ रही थी। जब बारात कोसीकलां थाने के सामने पहुंची तो इतना शोर सुनकर पुलिस वालों ने बैंड बाजे वालों को वहीं पर रोक लिया और सभी को थाने में ही बैठा लिया।

जब यह नजारा घोड़ी पर सवार दूल्हे ने देखा तो वह काफी उदास हो गया था। भला दूल्हा करता भी क्या, वह यह सब देखता ही रह गया। पुलिस ने जब बैंड वालों को पकड़ा तो इसकी खबर पूरे कस्बे में फैल गई। कस्बे के संभ्रात नागरिक को जब इस मामले के बारे में जानकारी पता लगी तो वह तुरंत थाने पहुंचे और किसी तरह उन्होंने मामले को शांत करा दिया।

बैंड बाजे वाले काफी देर तक थाने में ही बैठे रहे। किसी तरह मामले को शांत कराया गया। काफी देर बाद बैंड बाजे वालों ने पुलिस से माफी मांगी, बाद में पुलिस वालों ने यह हिदायत देकर छोड़ा कि अब वह सड़क पर बैंड नहीं बजाएंगे, सिर्फ विवाह स्थल पर ही बैंड बजाएंगे। एसएचओ प्रमोद पंवार ने यह बताया कि सिर्फ विवाह स्थल में ही बैंड बाजे बजाएंगे। सड़क पर बैंड बाजा नहीं बजाया जाएगा। एसएचओ साहब ने बताया कि जितने भी लोग हमने पकड़े थे, उन सभी लोगों को यही हिदायत देकर छोड़ दिया गया।

आपको बता दें कि कोरोना वायरस के बढ़ते मामले को देखते हुए सरकार भी काफी सख्त हो चुकी है और कई नए दिशा-निर्देश भी जारी किए गए हैं, जिनका सख्ती से पालन करना बहुत ही आवश्यक है।

This Article First Published On NEWSTREND