3 किलो चावल, 2 किलो मीट और 4 किलो आटे की रोटी भी पड़ जाती है इस शक्श को कम, उम्र 30 साल और वजन 200


दुनिया में मोटापे से जूझने वाले लोगो की कमी नहीं है आपने अपने आस-पास खुद देखा होगा| किसी व्यक्ति का 90 किलो वजन होता हैं किसी का 100 लेकिन आज हम आपको जिस व्यक्ति के बारे में बताने वाले है उसका वजन न 90 है न ही 100 किलो| उस शक्श का वजन जानकर आप खुद हैरान हों जाएंगे और सोचेंगे की आखिर यह व्यक्ति कितनी मात्रा में खाना खाता होगा और चल-फिर कैसे पता होगा? लेकिन अगर हम आपको बतांए की इन शक्श को अपने वजन के कारण दूसरी शादी करनी पड़ गयी| शयद यह बात आपको हज़म करना थोड़ा मुश्किल होगा लेकिन यह सत्य है|

खाना के चलते करनी पड़ी दूसरी शादी

जिन जनाब की आज हम बात कर रहे है,  बिहार के रहने वाले है इनका नाम रफीक है| इनका वजन लगभग 200 किलो है बता दे की यह जनाब हर दिन 3 किलो चावल, 4 किलो आटे की रोटी, 2 किलो मीट और डेढ़ किलो मछली भी खाते है| बात यही खत्म नहीं होती है जनाब को एक लीटर दूध की ज़रूरत भी तीन टाइम पड़ती है| कुल मिलाकर उनकी दिन भर की डाइट 14-15 किलो की होती है| ऐसे में एक पत्नी के लिए हर रोज़ इतना खाना बनाना बड़ा ही थकाऊ भरा हो जाता था जिसेक चलते उन्हें दूसरी शादी करनी पड़ी| मोटापे के चलते इनके बच्चे भी नहीं हो रहे है|

नहीं बुलाता कोई दावत पर

रफीक का वजन उनके साथ-साथ उनके मोहल्ले वालो के लिए भी परेशानी है| जिसके चलते उन्हें कोई भी अपने यहां दावत पर नहीं बुलाता है| अब बुलाए भी कैसे जब जनाब एक पूरी हांड़ी खुद ही खाली कर जाते है| ऐसे में केवल कुछ लोगो के लिए ही खाना बच पता है| पूरा मोहल्ला उन्हें उनके मोटापे के कारण जनता है|

बुलेट भी नहीं देती साथ

रफीक एक सम्पन किसान है, जिसके चलते उन्हें खाने में कोई दिक्कत नहीं आती| दिकत का सामना उन्हें चलने फिरने में करना होता है| वह कुछ दूर चलते ही हाफ जाते है| मोटापा बचपन से उनके साथ रहा है बस पहले चलने में कोई दिक्कत का सामना नहीं करना पड़ता था अब उन्होंने अपनी समस्या से झुटकारा पाने के लिए बुलेट खरीद ली लेकिन वह बेचारी भी उनका मोटापा नहीं झेल नहीं पति है| कभी-कभी तो वह बुलेट में फंस भी जाते है जिसके चलते रस्ते में जा रहे लोग उन्हें धक्का देते है|