दिल्ली में लगा नाइट कर्फ्यू,जानिए किन कामों पर पाबंदी और किन्हें मिली है छूट?


एक बार फिर से कोरोना के एक नए वेरिएंट ने दस्तक दे दी है। बता दे अब कई देशो में इसका केहर बरपना शुरू भी हो गया है। फ़िलहाल कोरोना वायरस की तीसरी लहर को लेकर देश में चिंता की स्थिति है. पहली और दूसरी लहर की तबाही देखने के बाद इस बार केंद्र और राज्य सरकारें खासा सतर्क नजर आ रही हैं. यही कारण है कि कई राज्यों में अब प्रतिबंध लगना भी शुरू हो गए हैं. अब दिल्ली में भी सरकार ने आज रात से  नाइट कर्फ्यू का ऐलान कर दिया गया है. सोमवार से रात 11 बजे से सुबह पांच बजे के बीच दिल्ली में बंद की स्थिति रहेगी. दिल्ली सरकार ने यह फैसला यलो अलर्ट में जाने से पहले ही एहतियातन उठा लिया है.

इन लोगो को मिलेगी इसपर छूट।

  • भोजन, फल और सब्जियां, डेयरी और दूध उत्पाद, दवा आदि जैसी आवश्यक वस्तुओं की खरीद के लिए पड़ोस की दुकानों में पैदल जाने पर छूट.
  • हवाईअड्डों/रेलवे स्टेशनों/आईएसबीटी से आने/जाने के लिए टिकट प्रस्तुत करने पर यात्रा करने की अनुमति होगी.
  • वेलिड पहचान पत्र प्रस्तुत करने पर प्रिंट और टीवी पत्रकार को छूट रहेगी.
  • ई-कॉमर्स के माध्यम से खाद्य पदार्थ, फार्मा, चिकित्सा उपकरणों सहित आवश्यक वस्तुओं की डिलीवरी की जा सकेगी।
  • दुकानें, खाद्य पदार्थ, किराने का सामान, फल और सब्जियां, डेयरी और दूध बूथ, मांस और मछली, पशु चारा, फार्मास्यूटिकल्स, दवाएं आदि पर भी छूट रहेगी.
  • वे व्यक्ति जो वेलिड पहचान पत्र और रजिस्ट्रेशन फार्म (हार्ड कॉपी या सॉफ्ट कॉपी) दिखाने पर कोविड-19 टीकाकरण के लिए जा रहे हो उन्हें भी नाइट कर्फ्यू में छूट रहेगी.

 

हैरानी की बात ये है विदेश के साथ-साथ अब भारत में भी कोरोना के केसेस आये दिन बढ़ रहे है दिल्ली में रविवार के दिन कोरोना के 290 मामले पाए गए जबकि एक शख्स की मौत भी हो गई. वहीं इससे पहले शनिवार को दिल्ली में 279 कोरोना मरीज मिले थे और एक की मौत हुई थी. बताते चलें कि इस महीने में कोरोना संक्रमण से यह सातवीं मौत है.  कोरोना की तीसरी लहर से निपटने के लिए जुलाई 2021 में‘ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान’(GRAP) को पास किया गया था. इस GRAP के तहत दिल्ली में कब लॉकडाउन लगेगा, कब क्या बन्द रहेगा और कब क्या खुलेगा, इसे लेकर अब कन्फ्यूजन की स्थिति नहीं रहेगी. GRAP के तहत 4 लेवल पर अलर्ट तैयार किये गए हैं.

दरअसल GRAP के अलर्ट के मुताबिक अगर लगातार 2 दिन तक पॉजिटिविटी रेट 0.5% दर्ज होता है. तो दिल्ली में ग्रेडेड रिस्पॉन्स एक्शन प्लान के तहत लेवल-1 यानी येलो अलर्ट लागू हो जाएगा. इसके 1 प्रतिशत से अधिक होने पर लेवल-2 यानी अंबर अलर्ट, 2 प्रतिशत से अधिक होने पर लेवल-3 यानी ऑरेंज अलर्ट और 5 प्रतिशत से अधिक होने पर लेवल-4 यानी रेड अलर्ट जारी किया जाएगा.इसलिए अब सरकार इसे लेकर सतर्क हो गयी है और टाइम से पहले ही इसे रोकना का प्रयास जारी है।