बॉस ने जारी किया अजीबो गरीब फरमान, इस वजह से कर्मचारियों पर लगा दी ऑफिस में फोन चार्ज करने पर रोक।


दरअसल एक एम्प्लोयी को कभी अपना बॉस अच्छा नहीं लगता और एक बॉस को कभी अपने एम्प्लोयी के काम से सटिस्फैक्शन नहीं होती ये हर नौकरी में आम देखा जाता है। दरअसल कई बार बॉस कंपनी में कुछ नए रूल्स बनाते है जिसकी वजह से कई एम्प्लोयी उनसे सहमत नहीं हो पाते। आज हम आपको एक ऐसे ही बॉस का फरमान बताने जा रहे है जो इन दिनों सोशल मीडिया पर छाया हुआ है। जी हाँ फरमान ऐसा है कि इसकी चर्चा सोशल मीडिया पर होने लगी है. आइये आप भी जानिए।

दरअसल कुछ दिनों से सोशल मीडिया पर एक पोस्टर खूब वायरल हो रहा है इस पोस्ट में आप देख सकते है की एक बॉस ने अपने ऑफिस कर्मचारियों के लिए अजीबोगरीब फरमान दिया है. इसे पढ़कर अब सभी कर्मचारी परेशान हैं. दरअसल, बॉस ने ऑफिस में फोन चार्ज करने पर रोक लगा दी है. इसके साथ ही बॉस ने यह भी कहा है कि जो भी कर्मचारी ऐसा करेगा, उसकी सैलरी में कटौती की जाएगी.वायरल हो रहे पोस्टर में लिखा गया है, ‘कोई भी कर्मचारी ऑफिस में अपना मोबाइल फोन अथवा किसी भी प्रकार का इलेक्ट्रॉनिक उपकरण चार्ज ना करे. अगर कोई ऐसा करता है तो ये बिजली चोरी मानी जाएगी.’

इतना ही नहीं बॉस ने इसके आगे लिखा की ‘जो भी कर्मचारी ऐसा करेगा, उसकी सैलेरी में कटौती की जाएगी. इसलिए हर कोई अपने फोन को ऑफिस में स्विच ऑफ रखे.’ जिसके बाद से कंपनी में शांत माहौल बन गया है। दरअसल बॉस का ऐसा व्यवहार किसी भी एम्प्लोयी को पसंद नहीं आएगा।

बता दे जैसे ही ये पोस्टर एम्प्लोयी के लिए लगाया तभी किसी एक एम्प्लोयी ने इसे वायरल कर दिया। बता दें कि यह फोटो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है. इस फोटो के सामने आने के बाद लोग बॉस की जमकर आलोचना कर रहे हैं. इसे लेकर कुछ लोग कह रहे हैं कि अगर फोन चार्ज करना बिजली चोरी है तो कर्मचारियों से ओवरटाइम करवाना बिजली का गलत इस्तेमाल है. फिलहाल यह पोस्टर कहां का है, इसकी पुष्टि नहीं हो पाई है.लेकिन हर कोई इस बॉस की तलाश में है फ़िलहाल।