टूरिस्टो से भरे मसूरी के केम्प्टी फॉल में आयी बाढ़, कहीं मलबे का ढेर तो कहीं भारी जलभराव


मसूरी में भारी बारिश के बाद उत्तराखंड के टिहरी गढ़वाल स्थित प्रसिद्ध केम्प्टी फॉल में पानी अचानक बढ़ गया है| इसके चलते पुलिस ने पर्यटकों के जाने पर रोक लगा दी है। बता दें, उत्तराखंड में कर्फ्यू में ढील के बाद इस जगह पर भारी संख्या में पर्यटक आ रहे हैं| बढ़ते कोरोना संक्रमण के खतरे को देखते हुए स्थानीय प्रशासन ने केम्प्टी फॉल में प्रवेश करने वाले पर्यटकों की संख्या को पहले ही सीमित कर दिया है।

वहीं लगातार बारिश से केम्प्टी फॉल्स में मलबा और पानी बढ़ गया है। केम्प्टी की मुख्य झील पूरी तरह से मलबे से भर गई है। ऐसे में पुलिस ने पर्यटकों को फॉल में जाने से रोक दिया है। कैम्पटी थाना प्रभारी नवीन चंद्र जुरल ने कहा कि मलबे ने केम्प्टी झील के कुंड को ढक दिया है| भारी बारिश के कारण जलप्रपात का बहाव भी बढ़ गया है। इस कारण पर्यटकों को सुरक्षा की दृष्टि से जाने नहीं दिया जा रहा है। कुछ पर्यटक झील और झरने की तस्वीरें लेने जा रहे हैं, जोखिम बड़ा होने के कारण उन्हें भी रोक दिया जाता है।

सोमवार को गाइडलाइन का पालन नहीं करने वाले 39 सैलानियों का चालान किया गया। इसमें बिना मास्क के 31 और 8 सैलानियों का सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन करने पर चालान किया गया। वहीं, पिछले तीन दिनों से हो रही बारिश से मसूरी में लोगों का जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है| वहीं, भारी बारिश के चलते हाईवे एनएच 707ए पर कई जगह मलबा आ गया| इससे स्थानीय लोगों के साथ शहर में आने वाले पर्यटकों को आने जाने में परेशानी हो रही है|

दूसरे दिन भी देहरादून रोड के पास मलबा मसूरी-दून मार्ग पर आ गया। जिससे पिक्चर पैलेस-किंगरीग रोड के पास कई घंटों तक यातायात बंद रहा। वहीं, लक्ष्मणपुरी लिंक रोड में मलबा और बोल्डर के कारण चार घंटे तक मार्ग बंद रहा| टिहरी पहुंचने के लिए लोगों को लंबा रास्ता तय करना पड़ा। मसूरी-टिहरी मार्ग पर कई जगहों पर मलबा और बोल्डर के कारण आवाजाही प्रभावित रही। वहीं, लंढौर रोड पर करीब चार दुकानों में पानी घुस गया|

पीडब्ल्यूडी के अपर सहायक अभियंता पुष्पेंद्र कुमार खैरा ने कहा कि गालोगी धार के पास मलबा और शिलाखंडों को हटाने के लिए कदम उठाए गए और मलबा और शिलाखंडों को हटाने के लिए तत्काल एक जेसीबी भेजा गया और कोल्हुखेत मुख्य मार्ग के पास यातायात सुचारू किया गया, कई पेड़ भी उखड़ गए| मसूरी रोड पर जो कई जगहों पर ट्रैफिक को भी रोक रहे हैं।