भारत के इस शहर सिर्फ 10 हजार रुपए लीटर में बिक रहा है गधी का दूध, लेने वालो की लगी लम्बी कतार


सोशल मीडिया आज की डेट में ऐसा प्लेटफार्म बन चूका है जिसके जरिये लोग लाखो रुपए कमा रहे है। दुनिया के हर कोने से लोग अपना टैलेंट एक वीडियो के जरिये इस पर पोस्ट कर देते जिसके बाद दुनियाभर में वह अपनी पहचान बना लेते है। आज के समय को सोशल मीडिया समय बताया गया है कहा जाता है यहाँ कुछ भी रातोरात हिट होजाता है। आज एक ऐसी ही ख़बर हम आपको बताने जा रहे है जिसने सोशल मीडिया के माध्यम से पूरे शहर में फैला दी जिसके बाद हुआ कुछ ऐसा जिसकी उम्मीद किसी को नहीं थी।

दरअसल एक ख़बर के अनुसार भारत के एक शहर में लोग गधी का दूध खरीदने के लिए लाइन लगा रहे हैं. इस वजह से इस दूध की कीमत लगभग 10 हजार रुपये लीटर के पार पहुंच गई है. लोगों द्वारा दावा किया जा रहा है कि, यह दूध लोगों को कोरोना महामारी से बचाएगा. इसके साथ ही पीने वालों की इम्यूनिटी भी काफी मजबूत हो जाएगी. हालांकि इस पर डॉक्टरों की राय कुछ और कहती है.मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो महाराष्ट्र के हिंगोली में गधी का दूध खूब बिक रहा है. शुरू में इसका दाम तो कम था, लेकिन दूध बेचने वालों ने दावा किया कि इसे पीने से इम्युनिटी बढ़ती है.

कहा जाता है अगर इम्युनिटी बढ़ गयी तो साथ ही ये कोरोना वायरस से जंग में भी काफी कारगर साबित हो सकता है. इसके बाद बड़ी संख्या में लोग दूध खरीदने के लिए उमड़ रहे हैं. इसके अलावा लोगों से हर लीटर के लिए 10 हजार रुपये से ज्यादा का दाम लिया जा रहा है.लेकिन फिर भी लोग इसे खरीद कर ले जा रहे है। इतना ही बल्कि वहीं कई लोग गली-गली घूमकर गधी का दूध बेच रहे हैं. साथ ही जोर-जोर से आवाज लगाई जा रही कि ‘पियो एक चम्मच दूध और पाओ हर तरह की बीमारी से मुक्ति’ दूध विक्रेताओं द्वारा दावा किया जा रहा है कि अगर कोई व्यक्ति अपने बच्चे को ये दूध पीलाता है तो उसे निमोनिया नहीं होगा. इसके अलावा खांसी, जुखाम, बुखार आदि से भी उसकी रक्षा होगी.

अगर विक्रेताओं की माने तो उन्होंने बताया की हर कोई 10 हजार रुपए लीटर दूध नहीं खरीद सकता तो वह इसे एक चम्मच दूध भी बेच रहे हैं. इस एक चम्मच की कीमत 100 रुपये के आसपास है. उनका कहना है कि, गधी के दूध में कई तरह के पोषक तत्व हैं, जिस वजह से ये बच्चों के साथ बड़ों पर भी कारगर है. उनके इस दावे में आकर बहुत से लोग इसकी अच्छी कीमत भी दे रहे है.वहीं दूसरी तरफ डॉक्टरों ने इस थ्योरी से इनकार किया है. डॉक्टरों का कहना है कि, किसी को कोरोना होता है, तो तुरंत उसे डॉक्टरी सलाह लेनी चाहिए. ऐसे में अगर वह गधी के दूध के चक्कर में पड़ेगा, तो ये उसके स्वास्थ्य के लिए घातक हो सकता है. उन्होंने लोगों से इसके लिए इतने ज्यादा पैसे ना खर्च करने की अपील की है.