आखिर क्यों रूस में McDonald’s बर्गर बिक रहा है 26,000 रुपए में, जानिए इसके पीछे की वजह


फ़ास्ट-फ़ूड ऐसी चीज़ है जिसका दीवाने हर कोई होता है सिर्फ भारत में ही नहीं विदेशो में भी लोग इसे खूब खाना पसंद करते है। लोग भले ही किसी और चीज़ में कटौती कर दे लेकिन खाने के मामले में हजारो उड़ाने में उन्हें कोई दिक्कत नहीं होती। मैकडॉनल्ड्स (McDonald’s) ये नाम बाहर के साथ-साथ इंडिया में भी काफी मशहूर है। लोग  मैकडॉनल्ड्स के बर्गर्स और फ्राइज खूब पसंद करते है और बहुत ही किफायती कीमत पर भी ये मिल जाते है लेकिन आपको बता दे रूस में कंपनी मैकडॉनल्ड्स ने घोषणा की कि वह अपने सभी 850 रेस्टॉरेंट को अस्थायी रूप से बंद करने जा रहे है। और इसके पीछे है ये कारण

दरअसल जैसे की आप सभी जानते है रूस और यूक्रेन की भयंकर युद्ध चिड़ा हुआ है। जिसकी वजह से कई कंपनियों को घाटा भी झेलना पड़ सकता है। हाल ही में रूस में मैकडॉनल्ड्स ने घोषणा की कि वह रूस में अपने सभी 850 रेस्टॉरेंट को अस्थायी रूप से बंद करने जा रहे है, लोगों ने मैकडॉनल्ड्स की लास्ट बाइट खाने के लिए आउटलेट पर भीड़ लगा दी. गोल्डन आर्चेस के बाहर की कई तस्वीरें और वीडियो ऑनलाइन वायरल हो गई. मैकडॉनल्ड्स आउटलेट पर लोगों ने ऐसी भीड़ लगा दी, वहां का माहौल देख कर ऐसा लग रहा था कि वह आखिरी बार इसको खा पा रहे है।

रूस में इस समय लोगो ने मैकडॉनल्ड्स के बाहर खूब लम्बी लाइन लगाना शुरू कर दिया है जैसे कोई आपदा आ खड़ी हो।इससे पहले भी कई बार ऑनलाइन बर्गर बेचने वाले ऐप व वेबसाइट्स पर तो ऐसी लूट मची थी, जिसके बारे में कोई सोच भी नहीं सकता. एक महीने में जितना आप कमरे का किराया भरते हैं, लगभग उतना या उससे ज्यादा रुपए देकर लोग बर्गर खाने को तैयार हैं. दो-तीन बर्गर की कीमत के बराबर नोएडा-दिल्ली जैसे शहर में 2 या 3 बीएचके फ्लैट का किराया भरा जाता है.

आप सोशल मीडिया पर वायरल होती तस्वीरों में देख सकते है कि रूस के कई शहरों में तीन या चार बर्गर 26,000 रुपये में बिक रहे हैं, जबकि बिना नाम वाले वस्तुओं के दो सीलबंद बैग की कीमत 33,400 रुपये (या 50,000 रूबल) से अधिक थी. वहीं, कोका कोला का एक ऑर्डर लगभग 1,000 रुपये में उपलब्ध था.जैसा कि हम सभी जानते है मैकडॉनल्ड्स कि इससे पहले भी आलोचना कि गयी थी इनकी सर्विसेज बहुत ढीली है। लेकिन बाद में इसे सॉल्व कर दिया गया।