जानिये कौन है वो Dub artist जिन्होंने दी है KGF 2 के रॉकी भाई को अपनी आवाज़


केजीएफ से पहले भी चैप्टर ने फैंस का दिल जीत लिया था.इस फिल्म को देखने के बाद अब फैंस को केजीएफ चैप्टर 2 का इंतजार था.वहीं, फिल्म के रिलीज होते ही धूम मच गई है.’केजीएफ चैप्टर 2′ बॉक्स ऑफिस पर धमाल मचा रही है.पहले वीकेंड पर कई रिकॉर्ड तोड़ने के बाद फिल्म वीकेंड में भी सफलता के झंडे गाड़ रही है. यहीं नहीं फिल्म में यश के किरदार रॉकी भाई पर सभी ने खूब प्यार बरसाया. यश के इस किरदार में उनके डायलॉग की काफी तारीफ हुई है. लेकिन क्या आप जानते हैं कि इस किरदार के लिए किसने अपनी आवाज को हिंदी में डब किया है ?

कौन है KGF का dub artist

दिलचस्प बात यह है कि यश की आवाज को हिंदी में डब करने वाला कोई बड़ा अभिनेता या जाना-माना सितारा नहीं है. इस वॉयस ओवर आर्टिस्ट के बारे में बहुत कम लोग ही जानते हैं. यश के किरदार रॉकी भाई को अपनी आवाज देने से पहले भी इस कलाकार ने साउथ के कई फिल्मी सितारों के लिए काम किया है लेकिन इस कलाकार को सबसे ज्यादा पहचान यश की फिल्म केजीएफ 2 से मिली ,जानकारी के मुताबिक सुपरस्टार यश की फिल्म केजीएफ 2 के लिए वॉयस ओवर आर्टिस्ट सचिन गोले की आवाज दी गई है

कौन हैं डबिंग आर्टिस्ट सचिन गोले

सचिन गोले का नाम आपने आज पहली बार सुना होगा, लेकिन इससे पहले वह ‘केजीएफ 1’ में यश के लिए अपनी आवाज दे चुके हैं. इसके अलावा उन्होंने साउथ की सैकड़ों फिल्मों में अपनी आवाज दी है. बॉलीवुड में बतौर डबिंग आर्टिस्ट 14 साल तक संघर्ष करने वाले सचिन गोले के जीवन की कहानी बेहद प्रेरक है

डबिंग रूम में बैठकर घंटों सचिन गोले को गाइड करते थे यश

सचिन गोले ने बताया कि केजीएफ की डबिंग के 1-2 दिन बाद यश खुद डबिंग रूम में आने लगे. उसके बाद यश घंटों तक सचिन की आवाज को सुना करते थे, यही नहीं यश समय-समय पर सचिन का मार्गदर्शन भी करते थे जिसका असर फिल्म में हमे देखने को मिला

धनुष के लिए सचिन गोले की डब फिल्में

सचिन गोले ने बताया धनुष की फिल्म ‘ताकत मेरा फैसला’ मेरे डबिंग करियर का पहला बड़ा ब्रेक थी. बड़े प्रोडक्शन में यह मेरी पहली फिल्म थी. इसके बाद धीरे-धीरे धनुष की जितनी फिल्में आईं, मैं उन्हें हिंदी में डब करता रहा. सचिन गोले आज डबिंग आर्टिस्ट की दुनिया में एक बड़ा नाम बन चुके हैं , अब लोग सचिन गोले को जानने लगे हैं जिसकी वजह से वह लगातार चर्चा में बने हुए हैं