अग्निपथ: ‘अग्निवीरों’ के लिए उद्योगपति आनंद महिंद्रा ने किया बड़ा ऐलान, कहा – ‘मैं दूंगा नौकरी’


देशभर के युवा सरकार की अग्निपथ योजना को लेकर काफी आक्रोशित दिख रहे हैं। यही वजह है कि तमाम राज्य में पिछले कई दिनों से सरकार की इस योजना का जमकर विरोध हो रहा है। इसी बीच महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा ने सेना में चार साल की सेवा के बाद अग्निवीरों की भर्तियों का एलान किया है।

महिंद्रा ग्रुप अग्निवीरों को कौन सा पद देगा ?

आनंद महिंद्रा के ऐलान के बाद ट्वीटर पर एक यूजर ने ट्वीट करके पूछा कि महिंद्रा ग्रुप के द्वारा अग्निवीरों को कौन सा पद दिया जाएगा, जिसके बाद आनंद महिंद्रा ने ट्वीट करते हुए जबाब देते हुए कहा कि कारपोरेट सेक्टर में अग्निवीरों के लिए नौकरी की आपार संभावनाएं हैं। उन्होंने बताया कि अग्निपथ स्कीम टीम वर्क, नेतृत्व और शारीरिक प्रशिक्षण के साथ, कारपोरेट सेक्टर के लिए प्रोफेशनल बना देता है, जिसके बाद अग्निवीर कारपोरेट सेक्टर के संचालन से लेकर प्रशासन, सप्लाई चेन और मैनेजमेंट के काम में शामिल हो सकते हैं।

महिंद्रा ने की थी योजना की तारीफ

दरअसल, महिंद्रा ने ट्वीट किया, ‘अग्निपथ प्रोग्राम को लेकर जारी विरोध से दुखी हूं। बीते साल जब योजना पर विचार किया गया था, तो मैंने कहा था और मैंने दोहराया था कि अग्निवीर जो अनुशासन और कौशल सीखेंगे, वह उन्हें खासतौर से रोजगार के लायक बना देगा। महिंद्रा ग्रुप ऐसे प्रशिक्षित, सक्षम युवाओं की भर्ती के मौके का स्वागत करता है। देशभर में अग्निपथ योजना को लेकर बवाल हो रहा है। बीते कई दिनों से प्रदर्शनकारियों ने अग्निवीरों के भविष्य को लेकर सवाल उठाए गए हैं। नई व्यवस्था के तहत अग्निपथ के जरिए भर्ती होने वाले अग्निवीरों को चार सालों तक सेना में सेवा का मौका मिलेगा, हालांकि केंद्र ने अग्निवीरों के लिए चार साल पुरे होने के बाद 25 फीसदी सैनिकों की सेवा में विस्तार की बात कही है। बता दें इससे पहले सैनिक 20 साल का कार्यकाल पूरा करते थे।

अग्निवीरो ने किया भारत बंद का ऐलान

सेना भर्ती की अग्निवीर योजना के खिलाफ छात्रों का गुस्सा सड़क पर दिख रहा है। बिहार, यूपी, हरियाणा, दिल्ली, झारखंड समेत देश के कई राज्यों में युवा सड़क पर उतरकर प्रदर्शन कर रहे हैं। वहीं योजना के खिलाफ छात्रों ने आज भारत बंद का ऐलान किया है। देश के युवा लगातार योजना को वापस लेने की मांग कर रहे हैं।