घायल होने के बाद भी नहीं टूटा CRPF जवान का हौसला, कहा- देश के दुश्मनो को छोड़ना नहीं


पिछले हफ्ते जम्मू -कश्मीर में आतंकियों का हमला हुआ था जिसमें सीआरपीएफ के जवानों ने आत*कियों  का डटकर सामना किया इस दौरान एक जवान शहीद हो गया और दो जवान घायल भी हो गए | 11 अप्रैल को सीआरपीएफ और पुलिस ने मिलकर आतंकियों के खिलाफ एक ऑपरेशन किया और दो आतंक**यों को मार गिराया |

लेफ्टिनेंट जनरल ने बढ़ाया घायल जवान का हौंसला 

इस ऑपरेशन के बाद एक जवान को  92 बेस अस्पताल में भर्ती करवाया गया था  , जिसके बाद लेफ्टिनेंट जनरल डीपी पांडे उस जवान का हौंसला बढ़ाने के लिए उससे मिलने पहुंचे थे | वीडियो में आप देख सकते है जब वहा खड़ा एक व्यक्ति कहता है की देखो साहब कमांडर आए वैसे ही बेड पर पड़ा जवान हाथ उठा कर कुछ इशारा करने लगता है | वो इशारों-इशारों में आतंकियों को मारने की बात भी करता है |

घायल जवान इशारों में कहता है आतंकियों को मारने की बात 

बेड पर लेटा हुआ जवान बार-बार हाथों से इशारे कर बताता है की आतंकियों को नहीं छोड़ना , उस जवान के इस इशारे पर वहां खड़े कमांडर भी कहते है की आप ही मारेंगे उन्हें , आपमें बहुत गुस्सा है और ये गुस्सा आपके लिए अच्छा है अब अब जल्द ही रिकवर हो जाओगे | ठीक होने के बाद आपको ही आतं**यों को मारना है |

अस्पताल पहुंचे थे कमांडर 

वीडियो में जो कमांडर दिख रहे यही वो चिनार कॉर्प्स के जनरल ऑफिसर कमांडिंग लेफ्टिनेंट जनरल डीपी पांडे है और अस्पताल के बेड पर जो जवान घायल पड़े है वो सीआरपीएफ के जवान निरंजन सिंह है | लेफ्टिनेंट जनरल डीपी पांडे आंतकियों को मारने के ऑपरेशन के बाद घायल हुए जवान का हालचाल जानने के लिए अस्पताल पहुंचे थे |