10 दिन बाद खुला MGM कॉलेज, यही से शुरू हुआ था हिजाब विवाद..पुलिस है भरी संख्या में तैनात


हाल ही में अब कोर*ना से स्तिथि काफी बेटर होने लगी है पहले के मुकाबले अब केसेस कम आ रहे है। कई शहरों ने स्कूल और कॉलेज खोलने का फैसला लिया है। लेकिन अब कई जगह पर को*ना की वजहें से नहीं बल्कि हिज़ाब को लेकर पूरी दुनिया में हाहार मचा हुआ है। अब कर्नाटक के उडुपी में मौजूद महात्मा गांधी मेमोरियल कॉलेज को 10 दिन बंद रखने के बाद शुक्रवार को खोल दिया गया।

पिछले हफ्ते इस कॉलेज में हिजाब और भगवा शॉल को लेकर छात्र समूहों में नो*झोंक हुई थी और नारेबाजी की गई थी। दरअसल कुछ क्लास के छात्रों की परीक्षा की वजह से इसे खोलने का निर्णय लिया गया। दरअसल  प्री-यूनिवर्सिटी छात्रों की प्रायोगिक परीक्षाएं होनी हैं इसलिए कॉलेज खोलने का निर्णय लिया गया। इसके लिए केवल उन्हीं छात्रों को कॉलेज में प्रवेश की अनुमति है जिन्हें परीक्षा देनी है। कॉलेज में शुक्रवार से डिग्री कक्षाएं भी शुरू हुईं।

पुलिस ने शांति व्यवस्था कायम रखने के लिए राज्य रिजर्व पुलिस कर्मियों समेत बड़ी संख्या में बल की तैनाती की है। गत सप्ताह 8 फरवरी को छात्रों के दो समूहों ने एक दूसरे के विरुद्ध नारेबाजी की थी जिसके बाद कॉलेज बंद कर दिया गया था। पुलिस ने शांति व्यवस्था कायम रखने के लिए राज्य रिजर्व पुलिस कर्मियों समेत बड़ी संख्या में बल की तैनाती की है। गत सप्ताह 8 फरवरी को छात्रों के दो समूहों ने एक दूसरे के विरुद्ध नारेबाजी की थी जिसके बाद कॉलेज बंद कर दिया गया था।

मुस्लिम छात्राओं का दावा था कि वे तब से हिजाब पहन रही हैं जब से उन्होंने कॉलेज में प्रवेश लिया है, वहीं लड़कों का कहना था कि यदि लड़कियों को हिजाब पहनकर आने की अनुमति दी जाती है तो वे भी भगवा शॉल पहनकर आएंगे। उडुपी के अतिरिक्त जिला पुलिस अधीक्षक सिद्दलिंगप्पा ने शुक्रवार को संवाददाताओं से कहा कि जिले के सभी कॉलेजों में माहौल शांतिपूर्ण है।पुलिस ने सभी कॉलेज में ये सन्देश जारी कर दिया गया है की इस मामले में शांति बनाये रखे वरना इस पर सख्त कार्रवाई की जाएगी और जो भी दोषी करार दिया जाएगा उसे सजा कड़ी होगी।