शादी की रस्मे बीच में छोड़कर परीक्षा देने पहुंची दुल्हन, कहा पढ़ाई सबसे जरूरी


कहां जाता है जीवन में शिक्षा बहुत जरूरी है. जीवन में पढ़ाई का क्या महत्व है, यह इस बात से ही पता चलता है.जब दुल्हन घर से विदा होकर ससुराल नहीं बल्कि परीक्षा में शामिल होने गई. जहां ससुराल वालों ने भी उसका हौसला बढ़ाया और परीक्षा तक जुलूस निकाला.

 

इसके बाद दुल्हन धूमधाम से विदा होकर अपने ससुराल पहुंच गई. आपको बता दें कि जिले के ग्राम तिंदुही निवासी रंजना कुमारी बीए तृतीय वर्ष की छात्रा है. 20 अप्रैल को उसकी शादी हुई थी और नौगांव से एक बारात आई थी. उनके जाने के दिन गुरुवार को उनकी हिंदी साहित्य की परीक्षा थी. शादी खत्म होने के बाद सभी विदाई की तैयारी कर रहे थे.

 

लेकिन दुल्हन तैयार होकर आई और कहा कि पहले परीक्षा दे दो. यह सुनकर पति राजेश कुमार व अन्य ससुराल वाले खुश हो गए और उनका हौसला बढ़ाया. दुल्हन रंजना राजकीय वीरभूमि स्नातकोत्तर महाविद्यालय में परीक्षा देने आई थी और इस वजह से सुबह 11 बजे से दोपहर 2 बजे तक बारात को रोक दिया गया.

परीक्षा पूरी होने के बाद वह धूमधाम से निकली और रंजना कुमारी के ससुराल पहुंच गई. प्राचार्य लेफ्टिनेंट सुशील बाबू ने छात्र के निर्णय की सराहना की. उन्होंने बताया कि रंजना कॉलेज की मेधावी छात्रा है. वह एनएसएस शिविरों सहित अन्य कार्यक्रमों में सक्रिय रूप से भाग लेती रही हैं.