ज्ञानवापी मस्जिद की दीवारों पर मिली हिन्दू देवी-देवताओं की कलाकृतियां, मलबे में छिपी है और भी मूर्तियां


पिछले कई दिनों से ज्ञानवापी परिसर में सर्वे किया जा रहा है और अब तक सर्वे मकी रिपोर्ट में कई एहम साबुत भी मिल चुके है , माता गौरी का श्रृंगार उनमें से एक है , इससे ये साफ़ पता चल रहा है की मस्जिद का निर्माण मंदिर तोड़ कर ही किया गया था | कोर्ट में दी गई रिपोर्ट के अनुसार मस्जिद की पश्चिमी दीवार पर शेष नाग और हिन्दू देवी देवताओ की कलाकृति भी साफ नज़र आ रही है |

कोर्ट में दर्ज हो चुके है सबूत


सर्वे के दौरान की गई फोटोग्राफी और वीडियो ग्राफी में भी ये साफ पता चल रहा है की मस्जिद के दीवार पर कलाकृतियां बनी हुई है , पूर्व अधिवक्ता कमिश्नर अजय मिश्रा ने इन सारे सबूतों की रिपोर्ट कोर्ट में दर्ज भी करवा दी है जिसे कोर्ट ने अपने रिकॉर्ड में शामिल कर लिया है हालांकि अजय मिश्रा को सूचनाएं लीक करने के आरोप में कोर्ट की तरफ से हटा दिया गया है पर उनकी रिपोर्ट में जितने भी दावे है वो बहुत अहम है |

मस्जिद की दीवारों पर मिली हिन्दू देवी-देवताओं की कलाकृतियां

अजय मिश्रा ने कोर्ट में दी हुई अपनी रिपोर्ट में कहा है की मस्जिद की उत्तरी से पश्चिमी दीवार तक हिन्दू देवी देवताओं की सिन्दूरी रंग की कलाकृतियां और शेषनाग के चिन्ह मौजूद है , एक मूर्ति पर सिन्दूर का लेप भी लगा हुआ है और उसके आगे दीप जलाने के लिए एक ताखा भी बना हुआ है , उन्हें मस्जिद की शिला पर ऐसी चार मूर्तियां और भी मिली है |

मलवे की जांच की लिए भी कोर्ट में अपील

उस रिपोर्ट में बैरिकेडिंग के अंदर पड़े मलबे के बारे में भी बताया गया है की मलबे में जो कलाकृतियां मौजूद है वो मस्जिद की उत्तरी और पश्चिमी दीवार पर बनी कलाकृतियों से मिल रही है , मलबे की जांच के लिए भी हिन्दू पक्ष द्वारा कोर्ट में अपील की गई है | रिपोर्ट में लिखा हुआ है की 6 और 7 मई को वीडियोग्राफी और फोटोग्राफी की गई थी तब ये सबूत मिले है |